राजस्थान में कोरोना वायरस फैला रही गहलोत सरकार- जानिए किसने लगाया आरोप - Jan Manthan : latest news In Hindi , English
breaking news corona update जयपुर राजस्थान

राजस्थान में कोरोना वायरस फैला रही गहलोत सरकार- जानिए किसने लगाया आरोप

जयपुर, जनमंथन। रामगंज मंडी से भाजपा विधायक और पूर्व मंत्री मदन लाल दिलावर ने प्रदेश की कांग्रेस सरकार पर तेज गति से कोरोना वायरस (coronavirus) को फैलाने का आरोप लगाया है। भाजपा विधायक ने दिलावर ने कहा कि एक समुदाय विशेष पर राजस्थान की गहलोत सरकार इतनी मेहरबान है कि उनके वोट बटोरने के लिए प्रदेश की राजधानी जयपुर को कोरना महामारी के संकट में डाल दिया है। विधायक दिलावर ने बताया कि 14 अप्रैल को मुख्यमंत्री गहलोत की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान जयपुर के विधायक अमीन कागज़ी और विधायक रफीक खान ने अपने समुदाय के लोगों को क्वॉरेंटाइन सेंटर नहीं आने के लिए मुख्यमंत्री के सामने प्रस्ताव रखा था जिस पर मुख्यमंत्री ने उन्हें बिना विचार विमर्श के मौखिक स्वीकृति दे दी।

मदन दिलावर ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पर आरोप  लगाते हुए कहा कि गहलोत ने एक समुदाय विशेष की चिंता करते हुए जयपुर शहर के उन बहुसंख्यक लोगों की जिंदगी को कोरोनावायरस की भट्टी में झोंक दिया है। दिलावर ने कहा कि राजधानी जयपुर में कोरोना संक्रमण के आंकड़े इस बात का सबूत है कि कोरोना संक्रमण एक समुदाय विशेष के लोगों में ही तेजी से फैल रहा है। उन्होंने कहा कि सब जानते हैं कि विशेष समुदाय के लोगों ने ही राजस्थान प्रदेश के विभिन्न जिलों में चिकित्सक, नर्स, कंपाउंडर, पुलिसकर्मी, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, सफाई कर्मी और प्रशासन के लोगों से अभद्रता, मारपीट, अश्लील हरकतें, हमला और थूकने जैसी हरकतें की है। मदन दिलावर ने कहा कि ऐसे खतरनाक लोगों पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत कार्रवाई करनी चाहिए लेकिन प्रदेश सरकार इनको प्रोत्साहित कर रही है।

दिलावर ने कहा कि लगातार राजस्थान प्रदेश में कोरोना वायरस के संदिग्ध बढ़ रहे हैं जिसकी वजह सरकार की ओर से कोरोना संदिग्ध रोगियों को एक ही वार्ड में काफी तादात में भर्ती करना है। दिलावर ने कहा कि अगर ऐसे लोगों में से एक भी पॉजिटिव मिलता है तो वार्ड में भर्ती दूसरे संदिग्ध लोगों के कोरोना संक्रमण का खतरा बढ जाता है। दिलावर ने कहा कि सरकार को संदिग्ध रोगियों को अलग-अलग कमरों में रखना चाहिए ताकि इनका आपस में संपर्क ना हो और संक्रमण न फैले परंतु यह बात इस सरकार के समझ में नहीं आ रही है और इस लापरवाही के चलते जयपुर, जोधपुर, कोटा और टोंक जैसे बड़े शहरों में लगातार कोरोना पॉजिटिव रोगियों की संख्या में बढ़ोतरी हो रही है।

मदन दिलावर ने इस दौरान मरकज (markaz) के तबलीगी जमातियों (tablighi jamaat) पर सुनियोजित तरीके से देश में कोरोना वायरस को फैलाने का आरोप भी लगाया। दिलावर ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा जमातियों को स्पेशल व्यंजन परोसे जा रहे हैं जबकि प्रदेश में गरीब लोग एक-एक दाने के लिए तरस रहे हैं और कई जगह पर भुखमरी की स्थितियां पैदा हो गई है। दिलावर ने कहा कि मुख्यमंत्री जी को चाहिए कि तुरंत जो लोग खाद्य सुरक्षा सूची में सम्मिलित नहीं है उनको भी नि: शुल्क खाद्य सामग्री उपलब्ध करवाई जाए ताकि वह भूख से बचें इसके अतिरिक्त कोटा शहर में हजारों की संख्या में बाहर मजबूरी भूखे मर रहे हैं।

भाजपा विधायक मदन दिलावर ने नाम नहीं लेते हुए प्रदेश के वरिष्ठ मंत्री शांति धारीवाल पर भी निशाना साधते हुए आरोप लगाया कि उन्होंने भामाशाह और दानदाताओं से मिली सामग्री को एक समुदाय विशेष के लोगों तक पहुंचाई है। दिलावर ने कहा कि कोटा शहर का घंटाघर, मकबरा, पाटन पोल और रेलवे स्टेशन का तेलघर और अन्य मुस्लिम बहुल क्षेत्र में कुछ हिंदू परिवार के निवास  करते हैं उनको एक दाना भी अभी तक उपलब्ध नहीं करवाया गया है जो भुखमरी के शिकार हो रहे हैं। मदन दिलावर ने राजस्थान की गहलोत सरकार पर दोहरे चरित्र का आरोप भी लगाया।

Related posts