निर्भया केस : मानवता को शर्मसार करने वालों पर मानवीयता नहीं-चारों को फांसी - Jan Manthan : latest news In Hindi , English
breaking news क्राइम दिल्ली देश

निर्भया केस : मानवता को शर्मसार करने वालों पर मानवीयता नहीं-चारों को फांसी

जनमंथन, न्यूज, नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली में 7 साल पहले 16 दिसंबर 2012 को हुए निर्भया केस में चारों दोषियों का डेथ वॉरन्ट जारी किया गया है। पटियाला हाउस कोर्ट ने फांसी के लिए 22 जनवरी, 2020 की तारीख़ और समय सुबह सात बजे तय किया है। हालांकि, चारों दोषी इस बीच 14 दिनों के भीतर फांसी के ख़िलाफ़ दया याचिका और क्यूरेटिव पिटिशन दाख़िल कर सकते हैं। गौरतलब है कि निर्भया की मां ने पटियाला हाउस कोर्च में याचिका दायर कर मांग की थी कि जल्द से जल्द चारों दोषियों के लिए डेथ वॉरंट जारी किया जाए।

बता दें कि सामुहिक बलात्कार कर नृशंष हत्या के मामले में कोर्ट विनय शर्मा, अक्षय, पवन और मुकेश सिंह को पहले ही दोषी क़रार दे चुकी थी। अदालत कक्ष में मौजूद हमारे पत्रकार आशीष जोशी ने बताया कि अदालत ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए से दोषियों को सुना। इस दौरान मीडिया को वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग रूम से जाने के लिए कहा गया था। इधऱ दोषियों के अधिवक्ता ए.पी. सिंह ने बताया कि वह इस फ़ैसले के लिए ख़िलाफ़ उच्चतम न्यायालय में क्यूरेटिव पिटिशन दायर करेंगे।

दूसरी ओर निर्भया की मां आशा देवी ने कहा कि वो 7 साल से दोषियों को सज़ा मिलने का इंतज़ार कर रही थीं।  उन्होंने कहा, “मेरी बेटी को आज इंसाफ़ मिला है। उन्होंने आगे कहा कि  चारों दोषियों को फांसी मिलने से देश की महिलाओं का हौंसला बढेगा साथ ही इस फ़ैसले से लोगों का न्याय व्यवस्था पर भी विश्वास मज़बूत होगा।

Related posts

1 comment

Comments are closed.