जेजेएस 2019 - जयपुर में जवाहराती कुंभ 20 दिसंबर से - Jan Manthan : latest news In Hindi , English
breaking news जयपुर राजस्थान

जेजेएस 2019 – जयपुर में जवाहराती कुंभ 20 दिसंबर से

जनमंथन, जयपुर। देश के नंबर वन बी2बी और बी2सी शो – ‘जयपुर ज्वेलरी शो’ का आयोजन ‘इनस्पायर टू क्रीएट फैशन स्टेट्मेंट‘ थीम के साथ जयपुर के सीतापुरा स्थित जयपुर एग्जीबिशन एंड कन्वेंशन सेंटर में 20 से 23 दिसंबर 2019 को होने जा रहा है।

जेजेएस चैयरमेन विमल चन्द सुराणा के मुताबिक गत 15 सालों से जेजेएस के मुख्य अतिथि रत्न एवं आभूषण क्षेत्र के विशिष्ठ शख्सियत होते हैं। इस साल शुक्रवार 20 दिसम्बर को सुबह 10 बजे जेईसीसी पर ‘जेजेएस‘ के चीफ गेस्ट, टाइटन ग्रुप के एमडी सी.के. वेंकटरमण होंगे। जैम एंड ज्वैलरी एक्सपोर्ट प्रमोशन काउंसिल (GJEPC) के चेयरमेन प्रमोद अग्रवाल और जीजेसी (GJC) के चेयरमेन अनंत पद्मनाभन ‘गेस्ट ऑफ ऑनर‘ होंगे।

जेजेएस सचिव राजीव जैन ने बताया कि साल 2003 में रश्मिकांत दुर्लभजी द्वारा शहर के एंटरटेनमेंट पैराडाइज में केवल 67 स्टॉल्स के साथ जेजेएस की शुरूआत हुई थी। उन्होने बताया कि जेजेएस 2019 इस बार पहले से ज्यादा विशाल होगा जिसमें 800 से ज्यादा बूथ लगाए जाएंगे। इनमें से 188 बूथ्स जेमस्टोन्स की होंगी जबकि 535 बूथ्स पर ज्वैलरी प्रदर्शित की जायेंगी। इसी तरह अलाईड मशीनरी, कास्ट्यूम ज्वैलरी और आर्टिफैक्टस की 62 बूथ्स होंगी।

जैन ने कहा कि जेजेएस में इस वर्ष ज्वैलरी सैक्शन में लगभग 72 फीसदी डिजाइनर बूथ्स हैं, जो जेजेएस को न केवल खूबसूरत बनायेंगे…बल्कि विजिटर्स को नयेपन का अहसास कराएंगे। साथ ही इस साल भी 3 बैस्ट बूथस् को ट्राफी भी दी जायेगी।

भारत के सबसे बड़े क्यूरेटेड ज्वैलरी एवं स्टाइल डेस्टिनेशन के टीवी चैनल इंडोलोजी द्वारा ‘जेजेएस 2019‘ में लाइव टेलिकॉस्ट करेगा। जेजेएस में इस बार इंडोलोजी टेलीविजन चैनल के जरिए भी बिक्री होगी, जो इस शो की खास विशेषताओं में से एक है। चैनल के लाइव स्टूडियो के जरिए एग्जीबिटर्स देश भर में अपनी ज्वैलरी प्रदर्शित कर बेच भी सकेंगे।

जेजेएस संयुक्त सचिव अजय काला के मुताबिक जेजेएस में ऑल इंडिया जैम एंड ज्वेलरी डोमेस्टिक काउंसिल के सदस्य विशेष रूप से आमंत्रित हैं। जीजेसी देश में जवाहरात के खुदरा कारोबार से जुड़े जौहरियों का शीर्ष संगठन है। GJC के 50 से ज्यादा सदस्य JJS में प्रदर्शित बूथों पर अपने शोरूमस् के लिए जवाहरात खरीददारी करने शो में आमंत्रित किया जाते है।

जेजेएस चैयरमेन विमल चन्द सुराणा के अनुसार जयपुर के जवाहरात व्यापारियों को जेजेएस से अंतरराष्ट्रीय जवाहरात उद्योग का एक मंच मिला है। जेजेएस एवं ब्रान्ड जयपुर के चलते हीरा-जवाहरात उद्योग में पूरी दुनिया में प्रतिष्ठित संस्थान वर्ल्ड फेडरेशन ऑफ डायमंड ब्रोरसेज, डॉयमंड टेडिंग कम्पनी, विश्व में ज्वेलरी, जेमस्टोन को बढ़ावा देने वाली संस्था सीबजो , रत्न एवं आभूषण क्षेत्र की सबसे सम्मानीय संस्था जैमोलोजिकल इंस्टिट्यूट ऑफ अमेरिका , जैम एंड ज्वेलरी एक्सपोर्ट प्रमोशन काउंसिल, ऑल इंडिया जैम एंड ज्वेलरी डोमेस्टिक काउंसिल और इन्टरनेशनल कलर स्टोन जैसे संगठन जेजेएस से किसी न किसी रूप में जुडे है। हीरे खनन एवं मार्केटिंग में बडी कम्पनी रियो टिंटों व पन्ने माणक का शीर्ष ऑक्शन हाऊस जैमफील्डस् जेजेएस से लगातार जुडा हुआ है। अपनी भूमिका में जेजेएस केन्द्र व राज्य सरकार को भी जवाहरात उद्योग के विकास के परिदृश्य पर नियमित रूप से अवगत करा रहा है।

कार्यकारिणी सदस्य विजय चौरडिया ने जानकारी दी कि इस साल भारत के 500 से ज्यादा टॉप ज्वैलरी रिटेलर्स ने जेजेएस में अपनी भागीदारी की पुष्टि की है। जेजेएस के निमंत्रण पर ये रिटेलर्स प्रत्येक वर्ष शो विजिट करते हैं और शो के दौरान बी2बी बायर्स के रूप मंन अपने प्रोडक्टस् की नियमित आपूर्ति के लिये सम्पर्क बनाते हैं। ताकि बायर्स का भी निरन्तर रूप से ज्वेलरी मैन्यफैक्चरर्स से सम्पर्क हो सके। यह अनूठी विशेषता जेजेएस को बी2बी एवं बी2सी श्रेणी में अन्य ज्वैलरी शो से भिन्न करती है।

Related posts