जयपुर बिज़नेस राजस्थान

MSME डे पर सोमवार को जयपुर में जुटेंगे सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यमों से जुड़े एक्सपर्ट, प्रदेश में एमएसएमई क्षेत्र के विकास पर 3 सत्रों में होगा मंथन

जनमंथन, जयपुर। सोमवार को राजधानी में सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योगों से जुड़े देश के जाने माने सरकारी और गैरसरकारी विशेषज्ञ जुटेंगे, मौका होगा ‘एमएसएमई डे’ पर आयोजित एक दिवसीय राज्य स्तरीय समारोह का। जयपुर के होटल क्लार्क्स आमेर में होने वाले इस समारोह का उद्घाटन सुबह 10 बजे उद्योग मंत्री राजपाल सिंह शेखावत करेंगे। इस मौके पर क्षेत्र के विकास और विस्तार पर तीन सत्रों में मंथन होगा। एमएसएमई सचिव नवीन महाजन ने बताया कि 17 सितंबर को एमएसएमई दिवस पर सीआईआई और लघु उद्योग भारती के समन्वय से जयपुर के होटल क्लार्क्स आमेर में आयोजित राज्य स्तरीय समारोह में उद्घाटन और पुरस्कार वितरण सत्र के अलावा तीन तकनीकी सत्रों का आयोजन किया गया है।

उन्होंने बताया कि इन सत्रों में जानकार विशेषज्ञों के साथ मंथन होगा। उन्होंने बताया कि विभाग द्वारा सीआईआई व लघु उद्योग भारती के सहयोग से एमएसएमई डे का लोगो बनाया गया है जिसे शुक्रवार को उद्योग व राजकीय उपक्रम मंत्री राजपाल सिंह शेखावत ने लोकार्पित किया।

महाजन ने बताया कि सुबह 11 बजे आयोजित पहले सत्र में निवेश एवं रोजगार के नए अवसर विषय पर आयोजित सत्र में बैंकों की भूमिका पर विजय रंजन सीजीएम एसबीआई, देश और विदेश में नई ब्यावसायिक संभावनाओं पर रिसर्जेंट इण्डिया की एमडी डॉ. ज्योति गडिया, कारोबारी संभावनाओं के विस्तार में तकनीक की भूमिका पर बिट्स पिलानी के निदेशक CSIR, CEERI प्रो. सांतनु चौधरी के साथ ही PHDCCI की चेयरपर्सन श्रुती नड्ड़ा पोद्दर और पेसिफिक यूनिवर्सिटी उदयपुर के वीसी और जाने माने इकोनोमिस्ट भगवती प्रकाश शर्मा बतौर विशेषज्ञ हिस्सा लेंगे वहीं इस सत्र के मोडरेटर सचिव नवीन महाजन होंगे।

उद्योग आयुक्त डॉ समित शर्मा ने बताया कि सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम दिवस पर मध्यान्ह 12.15 बजे से आयोजित दूसरे सत्र में क्लस्टर आधारित विकास की दषा-दिषा और संभावनाओं पर चिंतन होगा। उन्होंने बताया कि इस सत्र में तमिलनाडू सरकार के एमएसएमई सचिव धर्मेन्द्र प्रताप यादव, ग्रांट थ्रोंनटन इण्डिया एलएलपी के कार्यकारी निदेशक पद्मानंदवी, प्रिंसिपल काउंसलर सीआईआई सेंटर ऑफ एक्सिलेंस फॉर कांपिटेटिवनेस फॉर एसएमईज अमित सांघवी और सीनियर एडवाइजर फाउण्डेषन फॉर एमएसएमई क्लस्टर दिल्ली के मुकेश गुलाटी विशेषज्ञ व्यक्तव्य देंगे वहीं इस सत्र के भी सचिव एमएसएमई नवीन महाजन मोडरेटर होंगे।

समित शर्मा ने बताया कि इस अवसर पर अपरान्ह 3.30 बजे से तीसरा और महत्वपूर्ण तकनीकी सत्र एमएसएमई विकास की सरकारी योजनाएं, नवाचार और ई मार्केट पर मंथन होगा। उन्होंने बताया कि इस सत्र में गवरमेंट ई-मार्केट प्लेस के अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी एस. सुरेश कुमार जेम पोर्टल के बारे में प्रस्तुति देंगे। इसी तरह से क्षेत्रीय महाप्रबंधक एनएसआईसी पीके झा इस सेक्टर से जुड़ी योजनाओं की जानकारी देंगे।इसी सत्र में बीएसई एसएमई के मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉ. अजय ठाकुर बीएसई एमएसई एक्सचेंज में लिस्टिंग के बारे में जानकारी देंगे। इस सत्र के मोडरेटर उद्योग आयुक्त होंगे।

उद्योग आयुक्त शर्मा ने बताया कि तीनों ही सत्र सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यमों से सीधे जुड़े हुए होंगे और प्रदेश के उद्यमियों की उपस्थिति पर इन सत्रों में मंथन होने से यह एमएसएमई डे को नई उंचाइयां प्राप्त होगी।

Related posts