November 16, 2018
देश पॉलिटिक्स

जम्मू में गिरी महबूबा सरकार, बीजेपी ने पीडीपी से लिया समर्थन वापस

जनमंथन, नई दिल्ली। एक  बडे सियासी घटनाक्रम के तहत् जम्मू कश्मीर की पीडीपी सरकार से आज भाजपा ने अपना समर्थन वापस ले लिया। गठबंधन तोड़ने के बाद भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव राम माधव ने इसके पीछे घाटी में जारी आतंवादी गतिविधियों को बताया। उन्होंने कहा कि महबूबा सरकार शांति बहाली में सफल नहीं हो सकी। हाइलाइट्स पढिये………….

जम्मू कश्मीर की सियासत में आया भूचाल 

जम्मू कश्मीर की महबूबा मुफ्ती सरकार गिरी

बीजेपी ने लिया पीडीपी से समर्थन वापस

अमित शाह की अध्यक्षता में हुई बैठक में लिया गया निर्णय

बीजेपी महासचिव राममाधव ने दी प्रेस कॉन्फ्रेन्स के जरिए जानकारी

कहा- गठबंधन सरकार को आगे निरंतर आगे चलाना ठीक नहीं था

राज्य की महबूबा सरकार को ठहराया जिम्मेदार

भाजपा नेता राममाधव ने कहा-

स्थितियों को संभाल नहीं पा रही थी महबूबा सरकार

घाटी में शांति बहाली के लिए जरूरी बताया इस कदम को

आतंकवादी घटनाओं और विकास के विजन पर उठाए सवाल

पत्रकार शुजात बुखारी की श्रीनगर में हत्या के बाद फ्रीडम स्पीच को बताया खतरा

राममाधव ने कहा -राज्य सरकार को मदद करने के लिए भारत सरकार तत्पर रही

80 हजार करोड रुपये के विकास कार्य किए स्वीकृत

कांग्रेस ने भी पीडीपी का साथ देने से किया इनकार

गुलामनबी आजाद ने कहा -खुशी है कि केंद्र ने मानी गलती

कहा- बीजेपी-पीडीपी गठनबंधन ने कश्मीर किया तबाह किया

19 जून 2018 को लिया था बीजेपी ने पीडीपी के साथ सरकार बनाने का फैसला

इस फैसले की उम्मीद किसी भी पार्टी या जनमानस को नहीं थी

बीजेपी के लिए इस गठबंधन को बताया गया था कांटो भरा ताज

जम्मू कश्मीर विधानसभा में सीटों का गणिस इस तरह है…..

कुल सीट (जम्मू-कश्मीर विधानसभा) – 87

सरकार बनाने के लिए जरूरी बहुमत- 44

पीडीपी- 28

बीजेपी- 25

नेशनल कांफ्रेंस- 15

कांग्रेस- 12

अन्य- 7

राज्यपाल को महबूबा मुफ्ती ने दिया इस्तीफा

महबूबा ने कहा- जम्मू कश्मीर दुश्मनों की टेरेरि नहीं है

राज्य को मुश्किलों से निकालने के लिए किया था गठबंधन

11 हजार जवानों से केस वापस लिए

हमारे प्रयासों से ही सीज फायर हुआ

मस्क्युलर पॉलिसी लागू नहीं हो सकती है जम्मू में

पीडीपी का एंजेडा- पाक से भी हो बातचीत

सख्तीभरी पॉलिसी .यहां नहीं चल सकती

यहां के लोगों को 370 का डर था

बडे विजन के साथ किया था गठबंधन

नेशनल कॉन्फ्रेंस नेता उमर अब्दुल्ला ने भी की पीसी

कहा- 2018 में भी हम सरकार बनाने की स्थिति में नहीं है

न हमें किसी ने अप्रोच किया है औ न ही हम किसी को अप्रोच कर रहे हैं

गवर्नर के बुलाने पर राजभवन गए थे उमर अबदुल्ला

गवर्नर से कहा-किसी के पास सरकार बनाने का बहुमत नहीं है

ऐसे में गवर्नर रूल लागू करना होगा

Related posts