करियर जयपुर राजस्थान

BCI मान्यता, फीस कटौती और शिक्षक भर्ती सहित कई मांगों पर लॉ कॉलेज छात्रों की भूख हड़ताल जारी

जनमंथन, जयपुर। राजस्थान युनिवर्सिटी के 5 वर्षीय विधि महाविद्यालय के छात्रों का आंदोलन जारी है। लॉ कॉलेज में स्थाई शिक्षकों की भर्ती करने, बार काउंसिल ऑफ इंडिया (बीसीआई) से एफिलिएट करवाने, फीस में कटौती करने सहित 16 मांगों को लेकर यह आंदोलन जारी है। इस मामले में छात्रों की ओर से कुलपति को मांगपत्र दिए जाने के बावजूद भी जब सहमति नहीं बनी तो छात्र नेता जगप्रवेश सिंह बुधवार से भूख-हड़ताल पर बैठ गया था। आज चौथे दिन भी छात्र नेता जगप्रवेश सिंह भूख हड़ताल पर रहा।

बता दें कि BCI ने काफी पहले ही तमाम विधि महाविद्यालयों को स्थाई शिक्षक नहीं होने की स्थिति में एडमिशन लेने से मना किया था। विवि के इन कॉलेजों में सेल्फ फाइनेंस कोर्स होने की वजह से स्थाई शिक्षक भर्ती नहीं की जा सकती है, लेकिन कुलपति प्रोफेसर आरके कोठारी ने सरकार को पत्र लिख कर इन कोर्सेज को एसएफएस से नियमित कराने और 47 स्थाई पदों पर भर्ती Sanction करने की भी मांग की है।

भाजपा विधायक घनश्याम तिवाड़ी ने कहा – IAS पदोन्नति नियम विरुद्ध

गौरतलब है कि कुछ समय पहले ही राजस्थान युनिवर्सिटी में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान उच्च शिक्षा मंत्री किरण माहेश्वरी ने भी एसएफएस कोर्स रेगुलर करने के लिए सरकार से सिफारिश करने की बात कही थी। हांलाकि हालात देखकर लगता है इस बार भी स्थाई शिक्षक भर्ती नहीं हो पाएगी और ना ही एडमिशन। अब एनएसयूआई भी विधि महाविद्यालय छात्रों के इस आंदोलन के समर्थन में आ गए हैं।

दिवालिया होगी S kumars और Reid and taylor, 5000 करोड़ का है लोन डिफॉल्ट

Related posts