सिटी हैल्थ फेस्ट-2018  में 1500 से ज्यादा युवाओं की चिकित्सा जांच - Jan Manthan : latest news In Hindi , English
जयपुर राजस्थान

सिटी हैल्थ फेस्ट-2018  में 1500 से ज्यादा युवाओं की चिकित्सा जांच

जनमंथन, जयपुर। मौजूदा दौर में स्वास्थ्य सेवा की जरूरत बढ़ रही है और निदान व उपचार में सुधार और नए प्रयोगों के साथ स्वास्थ्य देखभाल सेवाओं की मांग और बढने की संभावना नजर आती है। स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता लाने और मानवता की सेवा के उद्देश्य से कैमिस्ट्स और डायग्नोस्टिक्स सेंटर के एग्रीगेटर एप- ‘मेरापेशेंट‘ ने सिटी हेल्थ फेस्ट-2018 का आयोजन किया जिसके तहत ग्लोबल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, सीतापुरा, जयपुर के छात्रों के लिए व्यापक स्वास्थ्य जांच शिविर आयोजित किया गया।

इस शिविर में ग्लोबल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी के 1500 से अधिक छात्रों और अध्यापकों की हीमोग्लोबिन, ब्लड शुगर, लीवर, हार्ट, ब्लड प्रेशर और हेपेटाइटिस संबंधी जांच की गई।

शिविर , शहर के अनुभवी पैथोलाॅजिस्ट्स की टीम के नेतृत्व में आयोजित किया गया। इस अनूठे मेगा हैल्थ स्क्रीनिंग कैंप के बारे में जानकारी देते हुए ग्लोबल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी की डायरेक्टर डाॅ. प्रो. रेणु जोशी ने कहा- ‘‘जीआईटी के विद्यार्थियों और अध्यापकों को स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करने की दिशा में ‘मेरापेशेंट‘ की टीम ने यह एक अच्छा कदम उठाया हैं। किसी भी विद्यार्थी के लिए अपने रोजमर्रा के रूटीन के बीच यह बहुत मुश्किल काम है कि वह किसी डाइग्नोस्टिक सेंटर पर जाए और अपनी सेहत की जांच कराए। इसलिए कैंपस में ही छात्रों को ऐसी सुविधाएं मिले, यह मौजूदा दौर का तकाजा है। हमें ‘मेरापेशेंट‘ एप की टीम के साथ जुडते हुए प्रसन्नता हो रही है, जिसने अपने ‘सेफ्टी इंडिया‘ अभियान की शुरुआत जीआईटी के साथ की है।‘‘

ये भी पढेंः-

क्यों जरूरी हैं? मनुष्य को शाकाहारी रहना, जानकर दंग रह जाएंगे!

क्या थोड़ी सी शराब का सेवन है सेहत के लिए फायदेमंद ? 

श्री देवाय एक्यूप्रेशर चि‍कित्सा एवं अनुसंधान केन्द्र का 49 वां स्थापना दिवस 28 फरवरी को 

इस अवसर पर ‘मेरापेशेंट‘ एप के फाउंडर और सीईओ श्री मनीष मेहता ने कहा- ‘‘मेरापेशेंट‘ ने अपने इस अभियान को जयपुर में लाॅन्च किया है और इसके तहत जयपुर के विभिन्न काॅलेजोें और विश्वविद्यालयों में योजनाबद्ध तरीके से इसी तरह के मेगा हैल्थ चैकअप कैंप आयोजित किए जाएंगे और जयपुर के करीब 1 लाख युवाओं की स्वास्थ्य संबंधी जांच की जाएगी। इस पहल का सबसे प्रमुख उद्देश्य युवाओं में स्वास्थ्य संबंधी जागरूकता पैदा करना है। जांच को तकनीकी रूप से उन्नत बनाते हुए हम विद्यार्थियों का पंजीयन ‘मेरापेशेंट‘ एप पर कर रहे हैं, ताकि वे अपनी मेडिकल रिपोर्ट्स इस एप पर ही देख सकें।‘‘

‘मेरापेशेंट‘ एप केमिस्ट्स और डायग्नॉस्टिक्स केंद्र के लिए एक एग्रीगेटर प्लेटफॉर्म है जहां वे अपने नुस्खे अपलोड कर सकते हैं और अपनी दवाओं और टेस्टों के लिए सर्वोत्तम मूल्य प्राप्त कर सकते हैं। इसमें एक अनूठी पेनिक बटन सुविधा भी है, जिसके जरिए इमरजेंसी के दौरान करीबी और प्रियजनों को चेतावनी भेजी जाती है और इस तरह उपयोगकर्ता को इमरजेंसी के हालात से उबरने में मदद मिलती है।

‘मेरापेशेंट‘ एप के बारे में

जयपुर के चार्टर्ड एकाउंटेंट श्री मनीष मेहता द्वारा शुरू किया गया ‘मेरापेशेंट‘ एप हेल्थकेयर इंडस्ट्री में एक अनूठी और शानदार पहल है। ‘मेरापेशेंट‘ अपनी तरह का पहला एग्रीग्रेटर प्लेटफॉर्म है, जो पारंपरिक बाजार को रोगियों/उपयोगकर्ताओं के लिए उंगलियों के इशारे पर ले लाता है। प्रमाणित केमिस्ट की दुकानों और डाइग्नोस्टिक्स केंद्रों के राष्ट्रव्यापी नेटवर्क के साथ, ‘मेरापेशेंट‘ ऐप स्मार्टफोन पर मांग और आपूर्ति की स्थिति तैयार करता है। ‘मेरापेशेंट‘ एप में दिए गए अनूठे और क्रांतिकारी पेनिक बटन की सहायता से उपयोगकर्ता को इमरजेंसी या मुश्किल हालात से उबरने में सहायता मिलती है। उपयोगकर्ता सिर्फ ‘स्लाइड टू पेनिक‘ का इस्तेमाल करते हुए पहले से सहेजे गए नंबरों पर अपने करीबी मित्रों और परिजनों को इत्तिला कर सकता है। पेनिक बटन के इस्तेमाल के साथ न सिर्फ 5 टेलीफोन नंबरों पर सूचना भेजी जाती है, बल्कि यह मुश्किल/इमरजेंसी में फंसे शख्स की लोकेशन भी बताता है।

Related posts

1 comment

Comments are closed.