राजस्थान विधानसभा बजट सत्र सोमवार से, सत्तापक्ष रहेगा डिफेंस में - कांग्रेस फूंकेगी मुद्दों में हवा - Jan Manthan : latest news In Hindi , English
January 22, 2019
breaking news जयपुर पॉलिटिक्स राजस्थान

राजस्थान विधानसभा बजट सत्र सोमवार से, सत्तापक्ष रहेगा डिफेंस में – कांग्रेस फूंकेगी मुद्दों में हवा

जनमंथन, जयपुर। राजस्थान विधानसभा बजट सत्र का आगाज सोमवार से होने जा रहा है। उपचुनाव की हार से आहत् प्रदेश की भाजपा सरकार खुद को सदन में डिफेन्स करने की योजना में जुटी है। दूसरी और जीत से उत्साहित कांग्रेसी अब मुद्दों में हवा फूंकने की तैयारी में हैं।

राजस्थान विधानसभा का बजट सत्र सोमवार से शुरु होने जा रहा है। इससे पहले आज विधानसभा की हां पक्ष लॉबी में भाजपा विधायक दल की बैठक संपन्न हुई। बैठक में बजट सत्र के दौरान सदस्यों को मुद्दे उठाने और विपक्ष को तथ्यों के साथ जवाब देने को कहा गया है। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की अध्यक्षता में हुई इस बैठक में उपचुनाव में हार का मुद्दा भी चर्चा का विषय रहा। उधर, बैठक के बाद कई विधायकों ने अब हार से सबक लेने की बात कही और कहा कि वो अब गलती नहीं दोहराएंगे तो उधर, राजेंद्र राठौड ने कहा कि चुनाव में हार जीत होती रहती है, साथ ही बजट सत्र में विपक्ष को उठाए सवालों के जवाब तथ्यों के साथ देने की बात भी कही।

पिछले 4 साल में देश के साथ ही राजस्थान में भी अपने अस्तित्व की लड़ाई लड रही कांग्रेस उपचुनाव की जीत से उत्साहित है। प्रदेश में किसानों के कर्जमाफी, कानून व्यवस्था और युवाओं को रोजगार के साथ ही पारंपरिक मुद्दों को भी अब कांग्रेस दमदार तरीके से उठाने का दम भर रही है। सदन के बाहर भी इस बार सरकार की नीतियों के खिलाफ और अपनी मांगों को लेकर कई संगठन विरोध प्रदर्शन करेंगे। विपक्ष के पास सत्तापक्ष को घेरने के लिए इस बार काफी कुछ रहेगा। नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी ने जयपुर में अपने निवास पर रखी प्रेस वार्ता में मीडिया से बात करते हुए कहा कि सोमवार से शुरू हो रहे बजट सत्र में सरकार को घेरा जाएगा। डूडी ने कहा कि सरकार ने पिछले चार साल में सिर्फ घोटाला किये है, इसके ​अलावा विकास के नाम पर कुछ काम नहीं हुआ है, उन्होनें कहा कि इस सरकार ने लोकतंत्र की गरीमा को गिराने का काम किया है।

विधानसभा बजट सत्र इस बार रोचक होने के साथ ही हंगामेदार भी रहेगा। विपक्ष के मुद्दे परवान पर होंगे और सत्तापक्ष की कमियां जनता के हाशिये परऐसे में जन अपेक्षाओं पर खरी उतरने के लिए सरकार इस बजट सत्र में घोषणाओं की झडी भी लगा सकती है। कुल मिलाकर अब प्रदेश की जनता का वक्त है और इस फायदा भी जनता को हो सकता है।

Related posts