दिवाली पर भूलकर भी न करें ये गलतियां, बर्बाद हो जाएंगे - Jan Manthan : latest news In Hindi , English
जयपुर ज्योतिष धर्म राजस्थान

दिवाली पर भूलकर भी न करें ये गलतियां, बर्बाद हो जाएंगे

जनमंथन, जयपुर। सनातनी हिन्दुओं का सबसे बड़ा त्यौहार है दिवाली। इस दिन हर बेकार और खराब वस्तुओं को घर से बाहर का रास्ता दिखाया जाता है। इसके पीछे बड़ी वजह यह है कि मां लक्ष्मी जब आपके द्वार पर पहुंचे तो आपके घर में बेकार वस्तुएं (कबाड़), गंदगी, दुर्गन्ध और घर में आलस्य का वास नहीं होना चाहिए। ऐसे में मां लक्ष्मी रुष्ठ होकर चली जाती हैं और उसके बाद घर में दरिद्रता का वास हो जाता है। शास्त्रों के मुताबिक दिवाली के दिन ही महालक्ष्मी अपने वाहन पर सवार होकर एक ही समय में असंख्य घरों में पहुंचती हैं।

आज हम आपको बताते हैं ऐसी कुछ गलतियां जिन्हें दिवाली के दिन करने से आप राजा की जगह रंक बने सकते हैं। दिवाली के दिन सांयकाल के समय सोना नहीं चाहिए। घर में आलस्य का वास देखकर मां लक्ष्मी संपन्नता की जगह दरिद्रता को उस घर में छोड़ जाती है। इसलिए दिवाली के दिन सुबह जल्दी स्नान कर मां लक्ष्मी के आगमन की तैयारी के लिए जुट जाना चाहिए।

दिवाली के दिन घर के लोगों में से किसी को भी शराब (मदिरा) या अन्य किसी नशे का सेवन नहीं करना चाहिए। ऐसा करने से मां लक्ष्मी कुपित होती हैं और उस घर में दरिद्रता को छोड़ जाती है।

दिवाली के दिन घर-परिवार या अन्य किसी रिश्तेदारी में बुजुर्गों का अपमान करना भी मां लक्ष्मी को नाराज कर सकता है। दीपावली के शुभ मौके पर बडों का सम्मान करने से माता लक्ष्मी उस घर में सुख- समृद्धि और ऐश्वर्य को छोड़कर जाती हैं।

दिवाली के दिन लड़ाई-झगड़े को घर से दूर रखें। घर में लड़ाई-झगड़े और परिवार के लोगों के बीच मतभेद, क्लेश की स्थिति में माता लक्ष्मी उस घर में कभी प्रवेश नहीं करती है। और ऐसे घर से पहले से मौजूद समृद्धि का भी नाश हो जाता है।

                                                           

Related posts