वित्तीय समावेशन में भारत विश्व में प्रथम, केन्द्रीय मंत्री राज्यवर्द्धनसिंह ने किया दावा - Jan Manthan : latest news In Hindi , English
February 6, 2019
breaking news जयपुर राजस्थान

वित्तीय समावेशन में भारत विश्व में प्रथम, केन्द्रीय मंत्री राज्यवर्द्धनसिंह ने किया दावा

जनमंथन, जयपुर। भले ही केन्द्र सरकार अपनी आर्थिक नीतियों और योजनाओं को लेकर जमकर आलोचना झेल रही है लेकिन केन्द्रीय युवा मामले और खेल एवं सूचना और प्रसारण राज्य मंत्री राजवर्द्धनसिंह राठौड का दावा है कि मोदी सरकार का विजन बहुत बडा है। जयपुर में मुद्रा प्रोत्साहन अभियान की उद्घाटन के बाद राज्यवर्द्धन ने कहा कि वित्तीय समावेशन (Financial inculsion) में भारत विश्व में पहले नंबर पर है। उन्होंने बताया कि देश में अभी तक जो भी सरकारें रहीं उनके कार्यकाल में बैंकिंग और बैंकिंग सेवाओं के आंकड़े मोदी कार्यकाल में सबसे आगे रहे हैं।

राज्यवर्द्धन सिंह राठौड ने कहा कि पीएम मोदी ने देश में भ्रष्टाचार को एक जंग के तौर पर लिया है और इसी के साथ नोटबंदी, बेनामी संपत्ति के खिलाफ एक्ट जैसे प्रावधान किए गए हैं। उन्होंने कहा कि देश के युवाओं पर मोदी सरकार का सबसे ज्यादा फोकस है। उन्होंने कहा कि युवाओं को आगे बढाने के लिए मोदी सरकार ने कौशल विकास कार्यक्रम शुरु किया और आत्मनिर्भर बनाने के लिए मुद्रा लोन शुरू किया।

पढेंः सीएम राजे का मांडलगढ़ में कल व्यस्त कार्यक्रम, विधानसभा उपचुनाव को लेकर दिनभर लेंगी बैठकें

राज्यवर्द्धनसिंह राठौड ने बताया कि करीब 9 करोड लोगों को मुद्रा लोन का लाभ मिला है और इसके तहत् 4 लाख करोड रुपये का लोन दिया गया है। उन्होंने बताया कि मुद्रा लोन के लाभान्वितों में 80 फीसदी महिलाएं हैं जबकि 55 फीसदी ओबीसी और एससी, एसटी के लोग हैं। राज्यवर्द्धनसिंह राठौड ने कहा कि साल 2017 का लक्ष्य 2. 4 लाख करोड रुपये मुद्रा लोन के जरिए ऋण उपलब्ध कराना है।

पढेंः राजस्थान विधानसभा का नवम सत्र 23 अक्‍टूबर से, कड़ी सुरक्षा के बीच गूंजेगा सदन

केन्द्रीय राज्य मंत्री ने कहा कि केन्द्र की मोदी सरकार की सोच यह है कि मांग के साथ ही उत्पादन और पूंजी निवेश भी देश में ही किया जाए। उन्होंने कहा कि इसी लक्ष्य को पूरा करने के लिए मेक इन इंडिया कार्यक्रम शुरु किया गया। केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि कुछ लोगो सरकार की योजनाओं और नीतियों के खिलाफ गलतफहमी फैला रहै हैं। उन्होंने कहा कि कैपिटल एक्सपैन्डिचर में भी भारत सरकार विश्व में सबसे आगे है।

पढेंः राज्य के 5 रसद अधिकारियों का पदस्थापन, खाद्य और नागरिक आपूर्ति निगम के दो प्रबंधक निलंबित

राज्यवर्द्धनसिंह राठौड ने बताया कि जुलाई 2017 में पिछले साल की तुलना में 12 प्रतिशत ज्यादा कारों बिक्री देश में हुई है। इसी तरह 14 प्रतिशत मोटर साइकिलें और 34 फीसदी ट्रैक्टरों की बिक्री ज्यादा हुई है।

Related posts

2 comments

Comments are closed.