बाबा कुशलसिंह कबड्डी लीग प्रतियोगिता का हुआ आगाज, वंदेमातरम ने जीता लीग का पहला मैच - Jan Manthan : latest news In Hindi , English
January 10, 2019
जयपुर राजस्थान स्पोर्ट्स

बाबा कुशलसिंह कबड्डी लीग प्रतियोगिता का हुआ आगाज, वंदेमातरम ने जीता लीग का पहला मैच

जनमंथन, जयपुर। जयपुर जिले के जमवारामगढ़ स्थित दंताला गूजरान में राजकीय उच्च प्राथमिक स्कूल के खेल ग्राउंड में रविवार को बाबा कुशलसिंह कबड्डी लीग प्रतियोगिता का आगाज हुआ। आयोजन समिति के अध्यक्ष मुकेश मीणा ने बताया कि कबड्डी लीग में जयपुर ग्रामीण के जमवारामगढ, बस्सी, आमेर , शाहपुरा सहित आसपास के 40 गाँवों की टीमें शामिल हुई।

इस मौके पर मौजूद पूर्व विधायक गोपाल मीणा ने इस तरह के आयोजनों की सराहना की। उन्होंने कहा कि इस तरह के आयोजन खेल प्रतिभाओं को आगे बढने में मदद करते हैं। जयपुर देहात कांग्रेस कमेटी के सचिव नाथूलाल मीणा ने भी कबड्डी लीग की सराहना की और कहा कि ऐसे आयोजनों से गांवों के खिलाड़ियों को पिंक पैंथर जैसी टीमों में अवसर मिल सकेगा।

कबड्डी लीग प्रतियोगिता के समारोह में पहुंची जन क्रांति मंच की राष्ट्रीय अध्यक्ष पूजा छाबड़ा ने इस दौरान युवाओं से शराबबंदी के लिए आह्वान किया। उन्होंने कहा कि इस लीग के जरिए गांव-देहात के खिलाड़ी राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिताओं में शामिल हो सकेंगे। खास बात यह रही कि प्रतियोगिता के पहले ही दिन आज काफी तादात में खेल प्रेमी आज कबड्डी का रोमांच देखने पहुंचे।

आयोजन समिति अध्यक्ष और पिंकसिटी प्रेस क्लब महासचिव मुकेश मीणा विजेता टीम को ट्राफी देते हुए

आयोजन समिति अध्यक्ष और पिंकसिटी प्रेस कल्ब महासचिव मुकेश मीणा ने कबड्डी लीग के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि इस लीग के जरिए खेल प्रतिभाओं को चिन्हित किया जाएगा। उन्हंने बताया कि बेहतरीन प्लेयर्स को ट्रेनिंग दिलाने और पिंक पैंथर में पहुँचाने के लिए वे अहम भूमिका निभाएंगे। आयोजन समिति अध्यक्ष मुकेश मीणा और कॉर्ड़िनेटर हरिओम मीना ने जानकारी दी कि सभी मैच डे नाईट में खेले जाएँगे।

ताज़ा खबरेंः

पीएम 29 को उदयपुर में 30,000 करोड़ की प्रोजेक्ट्स का करेंगे उद्घाटन 

मंत्रालयिक कर्मचारियों की मांगों को लेकर बैठक रही बेनतीजा

वेतन कटौती रोकने, 7वें वेतन आयोग लागू करने की मांग, 7 संगठन एकजुट

पढें कुछ हटकरः

कैसे बहकर आएगा आपके घर में पैसा? जानें अचूक उपाय

एक ऐसा श्मशान घाटहोश खो बैठेंगे आप

5000 साल पहले गेहूं का दाना होता था 200 ग्राम का 

इस मंदिर में काली मां लेती हैं चाईनीज भोग 

मर्दों की मर्दानगी और स्त्रियों का सौन्दर्य बढाता है यह सांप

Related posts