जेल प्रहरियों की भूख हड़ताल खत्म, मामला गंभीर होता देख सरकार ने मानी मांगे - Jan Manthan : latest news In Hindi , English
breaking news जयपुर पॉलिटिक्स राजस्थान

जेल प्रहरियों की भूख हड़ताल खत्म, मामला गंभीर होता देख सरकार ने मानी मांगे

जनमंथन, जयपुर। राज्यभर में पिछले 4 दिनों से जारी जेल प्रहरियों की भूख हड़ताल आज खत्म हो गई। प्रदेश सरकार के सकारात्मक आश्वासन मिलने के बाद जेल कर्मियों ने यह फैसला लिया। गौरतलब है कि वेतन विसंगतियों को लेकर गत 4 दिन से प्रदेश की सभी जेलों में नियुक्त जेल प्रहरी मैस के खाने का बहिष्कार कर भूख हड़ताल पर बैठ गए थे। इस दौरान जेल प्रहरियों के परिजन भी धरने पर बैठ गए थे। इस भूख हड़ताल से राज्य के कई जिलों में करीब 125 जेल प्रहरियों की तबीयत बिगड़ गई थी। तबीयत बिगड़ने के बाद कई जेल प्रहरी अस्पतालों में भी उपाचाराधीन हैं।

मामले को गरमाता देख रविवार को गृह विभाग के प्रमुख शासन सचिव दीपक उप्रेती और पुलिस महानिदेशक (डीजी) जेल अजीत सिंह ने जेल प्रहरियों के प्रतिनिधियों से चर्चा की। अधिकारियों ने उन्हें आश्वासन दिया कि वेतन विसंगति से जेल प्रहरियों के मामले को मुख्यमंत्री के सामने रखा जाएगा।

जेल प्रहरियों को अधिकारियों के साथ हुई बैठक में यह आश्वासन मिला कि वित्त विभाग में अटके वेतन विसंगति के मामले पर जल्द ही कार्यवाही की जाएगी। इस दौरान दोनों ही अधिकारियों ने जेलकर्मियों को जल्द से जल्द लाभ दिलाने का भी आश्वासन दिया। बैठक के बाद जयपुर में भूख हड़ताल पर बैठे जेल प्रहरियों को ज्यूस पिलाकर हड़ताल समाप्त की गई। दूसरी ओर सरकार के आश्वासन के बाद पूरे प्रदेश के जेल प्रहरियों ने आज जश्न मनाया।

बता दें कि वेतन विसंगतियों और अन्य लाभ-परिलाभों को लेकर प्रदेश भर के 5 हजार जेल प्रहरी भूख हड़ताल पर चले गए थे। इन जेल प्रहरियों का कहना था कि उनकी नौकरी पुलिस विभाग के समान ही है तो उनकी सेवा-शर्तें, लाभ-परिलाभ और वेतन भी उन्हीं के समकक्ष होनी चाहिए।

Related posts