breaking news क्राइम जयपुर पॉपुलर न्यूज़ राजस्थान

दाऊद इब्राहिम था आइडल, दाऊद सा ही खौफ था राजस्थान के इस डॉन का

जनमंथन, जयपुर। ये था राजस्थान का डॉन ऐसा डॉन जो हाईटेक हथियारों और अपने गुर्गों के साथ कई सालों से राजस्थान में दहशत बरसाता रहा। यह हमेशा बुलेटप्रूफ जैकेट पहनकर खून की होली खेलने का शौकीन था। फैशनपरस्त और शाही अंदाज रखने वाले राजस्थानी डॉन में अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद अब्राहिम की झलक नजर आती थी। इस डॉन का नाम है आनंदपाल सिंह जिसका 25 जून को चूरू जिले के मालासर में पुलिस एनकाउंटर कर दिया गया।

दाऊद जैसा ही खौफ था आनंदपाल से पुलिस को
राजस्थान के साथ ही मध्यप्रदेश, यूपी, बिहार और हरियाणा की पुलिस को इसकी तलाश थी। 3 हजार से ज्यादा पुलिसकर्मी डेढ साल से इसकी तलाश कर रहे थे, लेकिन आनंदपाल कहता था डॉन को पकड़ना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है। उसके नाम से आम आदमी ही नहीं बल्कि पुलिस भी थर्राती थी। राजस्थान पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स तक उसके सामने लाचार दिखती थी।

दाऊद की तरह ही चलाता था धंधे, रहता था शाही अंदाज में
अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम का वह बड़ा मुरीद था। दाऊद की तरह महंगे गोगल्स पहनना, स्टाइलिश कपड़े पहनना और हाईटेक हथियारों का शौकीन था आनंदपाल। वह दाऊद इब्राहिम की तरह अपराध की दुनियां का बेताज बादशाह बनना चाहता था। वह खाली वक्त में दाऊद इब्राहिम की किताबें पढता था। वह क्राइम करने, खौफ बरपाने और हाई प्रोफाइल लोगों में अपना वर्चस्व भी दाऊद इब्राहिम की तरह ही बना रहा था। दाऊद की ही तरह बड़ी-बड़ी पार्टियां ऑर्गेनाइज करना और पैसा पानी की तरह बहाने का भी उसे शौक था। दाऊद की तरह वह भी फिरौती और तस्करी के धंधे करता था इसके साथ ही वह कई लोगों से प्रोटेक्शन मनी भी वसूलता था।

दाऊद की तरह आनंदपाल की भी थी एक गर्लफ्रैण्ड
दाऊद की तरह आनंदपाल भी गर्लफ्रैण्ड रखता था। अनुराधा चौधरी उसकी गर्लफ्रैण्ड थी जो उसके धंधों में उसकी मदद करती थी। सूत्रों के मुताबिक अनुराधा को वह हनी ट्रैप में इस्तेमाल करता था। आनंदपाल राजस्थान में रहते हुए भी पुलिस की पहुंच से इतना दूर था कि उसका पता बताने वाले को 5 लाख का ईनाम घोषित था। साथ ही आनंदपाल की गैंग के हर एक गुर्गे का पता बताने पर एक-एक लाख रुपये का ईनाम घोषित था।

anandpal

बॉलीवुड किरदार रैम्बो से भी इम्प्रेस था आनंदपाल, वैसे ही बरसाता था कहर
बॉलीवुड किरदार रैम्बोो से वह बड़ा इम्प्रैस था। पुलिस ने उसे पकड़ने के लिए कई योजनाएं बनाई और कई जगह घेराबंदी कर छापेमारी भी की लेकिन वह नहीं पकड़ा गया। फिल्मी अंदाज में उसे पहले ही पुलिस की जानकारी मिल जाती थी और वह ठिकाना बदल लेता था। रैम्बो की तरह वह हाईटेक हथियारों से खून की होली खेलता था।

-अपराध की दुनिया का बेताज बादशाह बनना चाहता था आनंदपाल।

-खतरनाक और अत्याधुनिक हथियार रखने का बेहद शौकीन था आनंदपाल।

-दाऊद अब्राहम के जितना खौफ पैदा करना चाहता था दुनियां में।

-इसी लिए अकसर दाऊद की किताबें पढ़ता था आनंदपाल।

-दाऊद की तरह शाही पार्टियों का शौकीन था आनंदपाल

-दाऊद की तरह ही काफी फैशनपरस्त था आनंदपाल

-फिरौती और तस्करी के जरिए ही करता था आनंदपाल कमाई।

-3 राज्यों के पुलिसकर्मी ढूंढ रहे थे डेढ साल से आनंदपाल को।

-21 आईपीएस, 3000 से ज्यादा पुलिसकर्मी जुटे थे आनंदपाल को ढूंढने में।

-आनंदपाल की तलाश में 700 से ज्यादा लोगों को पकड़ चुकी थी पुलिस।

Related posts

1 comment

Comments are closed.