गोकसी करने वालों को आजीवन कारावास, 7 साल बाद हिंगोनिया गौशाला मामले में हाईकोर्ट का बड़ा फैसला - Jan Manthan : latest news In Hindi , English
February 6, 2019
breaking news जयपुर देश राजस्थान

गोकसी करने वालों को आजीवन कारावास, 7 साल बाद हिंगोनिया गौशाला मामले में हाईकोर्ट का बड़ा फैसला

जनमंथन, जयपुर। प्रदेश के बहुचर्चित हिंगौनिया गौशाला मामले में 7 साल बाद राजस्थान हाईकोर्ट ने अपना फैसला सुनाया है। खास बात यह है कि इस मामले की सुनवाई करने वाले न्यायाधीश महेशचंद शर्मा ने अपनी सेवानिवृति के दिन यह फैसला सुनाया है।

राजस्थान हाईकोर्ट ने अपने फैसले में कहा कि गाय को राष्ट्रीय पशु घोषित कराने के लिए मुख्य सचिव और महाधिवक्ता कार्रवाई कर प्रयास करें। वहीं दूसरी ओर गोकसी करने वालों को आजीवन कारावास का प्रावधान भी शामिल किया गया है।

हाईकोर्ट ने गौशाला की देखरेख के लिए एक कमेटी भी बनाई है, जिसका अध्यक्ष वरिष्ठ अधिवक्ता सज्जनराज सुराणा को बनाया गया है। कमेटी में अधिवक्ता पूनमचंद भंडारी और बार एसोसिएशन के अध्यक्ष व महासचिव समेत अन्य को सदस्य बनाया गया है।

कोर्ट ने इसके साथ ही एसीबी के पुलिस महानिदेशक को निर्देश देकर तीन महिने में एक बार गौशाला का दौराकर अपनी रिपोर्ट तैयार करने को कहा है। कोर्ट के आदेशों की पालना नहीं होने पर कमेटी को रिट पिटिशन फाइल करने और अवमानना कार्रवाई करने का भी अधिकार दिया है।

Related posts