breaking news क्राइम राजस्थान

खुशियों की गूंज बदली मातम के रुदन में , रफतार के कहर ने ली 6 बच्चों की जान

जनमंथन, सवाई माधोपुर। खण्डार के दौलतपुरा गांव में शनिवार शाम खुशियो की गूंज मातम के रुदन में बदल गई जब सामूहिक विवाह सम्मेलन में जा रहे एक वर पक्ष के साथ बडी दुर्घटना घट गई। बैरवा समाज की यह बारात दौलतपुरा गांव से एक ट्रैक्टर-ट्रोली में सवार होकर खानपुर जा रही थी। खानपुर में हो रहे विवाह सम्मेलन में दूल्हे के फेरे होने थे। ट्रैक्टर-ट्रोली तेज रफ्तार में थी जिसमें सवार महिलाएं मांगलिक गीत गा रही थीं। अचानक रफ्तार ने अपना कहर बरपाया और ट्रैक्टर ट्रोली ने जोरदार पलटी खाई जिसके चलते उसमें सवार 6 बच्चों की मौत हो गई और दूल्हे सहित करीब दो दर्जन लोग घायल हो गए।

यह दर्दनाक हादसा सवाई माधोपुर खण्डार रोड के लहसोडा मोड पर हुआ। घटना के बाद पुलिस ने मौके पर पहुंचकर सभी घायलो को जिला अस्पताल में भर्ती करावाया है। घायलों में दो की हालत गंभीर बताई जा रही है जिन्हें जयपुर रैफर किया गया है। सूचना पर पुलिस अधीक्षक सत्येन्द्र सिंह अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक दशरथ सिंह सहित जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन के कई अधिकारी मौके पर पहुंचे। घटना के बाद संसदीय सचिव जितेन्द्र गोठवाल ने भी अस्पातल पहुचकर और घायलो के हाल चाल जाने।

जानकारी के मुताबिक खानपुर में बैरवा समाज के शादी सम्मेलन का आयोजन किया गया था । सम्मेलन मे शामिल होने के लिए दौलतपुरा से बारात लेकर जा रही ट्रैक्टर ट्रोली लहसोडा मोड पर अनियन्त्रित होकर पलट गयी। प्रत्यक्ष दर्शियो के अनुसार ट्रैक्टर ट्रोली तीन पलटी खा गयी जिससे कई मासूम नीचे दब गये और मैके पर ही 6 बच्चों की मौत हो गयी। वहीं ट्रोली में सवार 21 लोग घायल हो गये। पुलिस के मुताबिक ट्रोली चालक ने शराब पी रखी थी और तेज गति से ट्रैक्टर ट्रोली चला रहा था जिससे मोड पर अनियन्त्रित होकर ट्रोली पलट गयी और एक दर्दनाक सडक हादसा हो गया।

Related posts