5 साल की मासूम के साथ बिस्किट दिलाने के बहाने दुष्कर्म, गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती - Jan Manthan : latest news In Hindi , English
February 6, 2019
breaking news क्राइम जयपुर राजस्थान

5 साल की मासूम के साथ बिस्किट दिलाने के बहाने दुष्कर्म, गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती

जनमंथन, विराटनगर। कुंठाग्रस्त पौरुषता इतनी क्रूर हो चुकी है कि मासूम बच्चियों के साथ हैवानियत पर उतर आई है। ऐसे में प्रदेश में मासूम बच्चियो के साथ दुष्कर्म की घटनाओं का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। इस बार मामला राजस्थान के जयपुर जिले का ही है। यहां विराटनगर के मैड गांव में एक 5 साल की मासूम से दुष्कर्म का मामला सामने आया है। मानवीयता को शर्मसार करने वाला यह कृत्य रणजीत माली नाम के शख्स ने किया है। बच्ची की हालत गंभीर होने के चलते उसे जयपुर के जेके लोन हॉस्पिटल में भर्ती करवाया गया है।

जानकारी के मुताबिक रणजीत माली नाम के शख्स ने मैड गांव में एक 5 साल की मासूम बच्ची को बिस्किट दिलाने के बहाने बुलाया और फिर उसके साथ अपनी कुंठाएं मिटाने का प्रयास किया। दुष्कर्म को अंजाम देने के बाद यह बेरहम शख्स बच्ची को गंभीर हालत में ही छोडकर चला गया। स्थानीय लोगों और परिजनों को मालूम चलने के बाद मासूम को स्थानीय हॉस्पिटल में भर्ती करवाया गया। हॉस्पिटल में बच्ची की हालत ज्यादा नाजुक बताने के बाद उसे जयपुर रैफर कर दिया गया।

मानवीयता को झकझोर कर देने वाली इस घटना के बाद स्थानीय ग्रामीणों में भारी रोष है। घटना के बाद गुस्साए ग्रामीणों ने आज विराटनगर के सारे बाजारों को बंद कर दिया और आरोपी की गिरफ्तारी की मांग को लेकर धरने पर बैठ गए। हांलाकि विराटनगर पुलिस ने आरोपी रणजीत माली के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

प्रदेश के गृहमंत्री गुलाबचंद कटारिया बड़ी लापरवाही से कहते हैं ‘क्या दुष्कर्म कांग्रेस के राज में नहीं हुए लेकिन प्रदेश में अपराधों का प्रतिशत हमने कम किया है। यह कहकर पल्ला झाड लेने वाले गृहमंत्री बड़े दंभ में विधानसभा में आंकडों का लेखा- जोखा हर बार लहराते नजर आते हैं। सवाल यह उठता है कि प्रदेश में अपराधियों में खौफ का नारा बुलंद करने वाली (पुलिस) टीम के इस लीडर के आंकडे आखिर मासूमों से दुष्कर्म करने वाले वहशियों में खौफ क्यों नहीं पैदा कर पा रहे।

Related posts