आरएसएस प्रमुख ने की देश में गौवध रोकने के लिए कानून की मांग - Jan Manthan : latest news In Hindi , English
January 10, 2019
breaking news देश पॉलिटिक्स

आरएसएस प्रमुख ने की देश में गौवध रोकने के लिए कानून की मांग

जनमंथन, नई दिल्ली। गौरक्षकों की पिटाई से कथित गौतस्कर की मौत के मामले ने पूरे देश में भूचाल ला दिया है। इसी बीच राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (RSS) के प्रमुख मोहन भागवत ने पूरे देश में गौहत्या पर प्रतिबंध लगाने के लिए कानून लाने की मांग की है। भागवत ने कहा कि गौवध के नाम पर कोई भी हिंसा गौरक्षा के उद्देश्य को नुकसान पहुंचाती है, उन्होंने यह भी कहा कि कानून की हर हाल में पालना होनी चाहिए। आरएसएस प्रमुख ने दिल्ली में भगवान महावीर की जयंती के मौके पर आयोजित एक कार्यक्रम में यह बात कही।

भागवत ने कहा है कि ‘हम देश में गौहत्या पर रोक लगाने वाले कानून की मांग करते हैं।’ उन्होंने कहा कि गौहत्या के नाम पर हुई कोई भी हिंसा उद्देश्य को बदनाम कर देती है, उन्होंने कहा कि कानून की पालन तो होनी ही चाहिए। भागवत ने कहा कि देश में गौहत्या के खिलाफ कानून आएगा तो कानून की पालना भी होती रहेगी और गौरक्षा का उद्देश्य भी पूरा हो पाएगा। भागवत का यह बयान राजस्थान के अलवर जिले में तथाकथित गौरक्षकों द्वारा एक व्यक्ति की हत्या करने के मामले में आया है। इस घटना ने पूरे देश में मानो राजनैतिक बवंडर ला दिया है।

पूर्व केन्द्रीय मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सचिन पायलट ने इस मुद्दे पर भाजपा को घेरते हुए कहा है कि एंटी रोमियो दस्ता हो, लव जिहाद हो, गौरक्षकों के गैरकानूनी काम हो या बूचड़खानों के खिलाफ कार्रवाई हो, इन सब बातों से एक बात साफ है कि भाजपा की सरकार पूरे देश पर जबरदस्ती अपनी विचारधारा थोपने के काम को बहुत तेजी से कर रही है। उन्होंने कहा कि भाजपा की विचारधारा अब पूरे देश के सामने आ रही है।

गौतलब है कि कथित गौरक्षक समूह ने राजस्थान के अलवर में गाय ले जा रहे कुछ लोगों पर हमला कर दिया था। हरियाणा के रहने वाले 15 लोग छह गाड़ियों में गायों को लेकर जा रहे थे इसी दौरान बहरोड के पास कुछ तथाकथित गौरक्षकों ने इन पर हमला कर दिया। मारपीट के दौरान 50 साल के पहलू खान (55) को गंभीर चोटें आईं जिसकी इलाज के दौरान मौत हो गई थी।

Related posts