breaking news विदेश

सीरिया में रासायनिक हमले के बाद अमेरिका ने दागीं 60 टॉमहॉक क्रूज मिसाइलें

जनमंथन, वाशिंगटन। गृह युद्ध की आग में झुलस रहे सीरिया में रासायनिक हमले के बाद अमेरिका ने हवाई हमले करना शुरू कर दिए हैं। अमेरिकी अधिकारियों के मुताबिक गुरुवार रात से अब तक अमेरिका ने सीरियाई सरकार के हवाई ठिकानों पर 60 से ज्यादा मिसाइलें दागी हैं।

सीरिया में रासायनिक हमले के बाद अमेरिका ने यह कड़ा कदम उठाया है। इस हमले में 30 बच्चे और 20 महिलाओं समेत करीब 100 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 400 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं। अमेरिकी अधिकारियों के मुताबिक सीरियाई सरकार की ओर से किए गए रासायनिक हमले के बाद यह जवाबी कार्रवाई की जा रही है।

यह पहली बार हुआ है जब अमेरिकी राष्ट्रपति ने सीरीयाई सुरक्षा बलों के खिलाफ कार्यवाही करने के आदेश दिए हैं। सेना के अधिकारियों के मुताबिक सीरिया के हवाई ठिकानों पर टॉमहॉक क्रूज मिसाइलें दागी गईं। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप पहले ही सीरिया के इडलिब में हुए रासायनिक हमले के लिए सीरियाई राष्ट्रपति बशर अल-असद को जिम्मेदार ठहरा चुके थे।

गौरतलब है कि संयुक्त राष्ट्र की बैठक में सीरिया के खिलाफ कार्यवाही पर जब कोई सहमति नहीं बनी तो अमेरिका ने स्पष्ट कर दिया था कि अगर यूएन (united nation) अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन नहीं करेगा, तो अमेरिका अपने स्तर पर ही सीरियाई सरकार के खिलाफ कार्रवाई करेगा।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने इस कार्यवाही के जरिए अंतरराष्ट्रीय कानूनों का उल्लंघन करने वाले देशों को कड़ा संदेश दिया है। उन्होंने सीरिया के साथ ही यमन और इराक जैसे देशों को इस कार्यवाही के जरिए संदेश दिया है, अमेरिकी सेना इन देशों में भी कार्यवाई के लिए तैयार बैठी है। यह पहला मौका है जब राष्ट्रपति बनने के बाद ट्रंप ने पहली सैन्य कार्यवाही का आदेश दिया।

Related posts